25 हजार की सैलरी से शेयर मार्केट में कैसे निवेश करें?

how to invest in less salary

अगर आपकी सैलरी 25 से 30 हजार रुपये हैं और आप शेयर मार्केट में निवेश करने का सोच रहे हैं, लेकिन आपको मालूम नहीं हैं की कैसे और कहाँ से शुरू करे तो आपके लिए ये आर्टिकल बहुत लाभदायक हो सकता हैं। इस आर्टिकल में कम सैलरी में कैसे निवेश करें उसके बारे में जानकारी दी गई हैं। पर सबसे पहले जो हर एक beginner गलती करता हैं वो समझ लेते हैं। बहुत से लोगों को ऐसा लगता हैं की शेयर में trading करना भी निवेश ही हैं जबकि ऐसा नहीं हैं।

निवेश और ट्रैडिंग में क्या अंतर हैं?

देखिए निवेश और trading दोनों अलग अलग चीज हैं। निवेश में आप अपने पैसे को लंबे समय तक कही पर रखते हैं, चाहे वो म्यूचूअल फंड हो या फिर बैंक या फिर शेयर मार्केट।

वही दूसरी तरफ trading में आप किसी शेयर, currency, commodity के कीमत में उपर नीचे होने से प्रॉफ़िट कमाने की कोशिश करते हैं। आम तौर पर ट्रैडिंग शॉर्ट टर्म के लिए होता हैं जो की कुछ दिन या कुछ हफ्ते ही होते हैं। आप नीचे ट्रैडिंग और निवेश में एक तुलना देख सकते हैं।

ट्रैडिंगनिवेश
शॉर्ट टर्म या Long टर्मशॉर्ट टर्म (दिन, हफ्ते या ज्यादा से ज्यादा एक महीने)Long टर्म (साल, दशक)
रिस्कबहुत ज्यादाट्रैडिंग से कम रिस्क
कारणकम समय में पैसा कमानाWealth बनाना
जरूरतेंशेयर मार्केट की पूरी समझ जरूरी हैंथोडी समझ में भी आप निवेश कर सकते हैं
कितना टाइम लगता हैंtrading से पैसे कमाने में पूरा दिन जा सकता हैंकुछ घंटे में ही आप सही जगह निवेश कर सकते हैं
कितना पैसा लगता हैंtrading में आपको ज्यादा पैसा लगता हैं प्रॉफ़िट करने के लिए (मार्जिन भी मिलता हैं पर उसमे भी आपका ही पैसा हैं)चुकी आप लंबे समय तक निवेश कर रहे हैं तो आप धीरे धीरे कम कम पैसे से भी शुरू कर सकते हैं।

ऊपर के तुलना से आपको एक idea मिल गया होगा की कौन सा आपके लिए सही हैं।  इसलिए अगर आप 25 हजार की सैलरी से शेयर मार्केट में trading करने का सोच रहे हैं तो हमारी ये राय होगी की आप trading ना करें। आप अपने सैलरी बढ़ाने के ऊपर ध्यान दे।

Risk कितना ले सकते हैं?

अगले step में आपको अपना रिस्क लेने की छमता को जानना होगा। रिस्क लेने का छमता का मतलब हैं की अगर आपका पैसा डूब गया तो आपका कैसा प्रतिक्रिया होगा। देखिए बहुत से लोग ऐसे होंगे जिनके ऊपर जिम्मेदारी होगी और भले अपना कुछ पैसा निवेश तो कर सकते हैं पर उसे डूबने के लिए नहीं छोर सकते हैं। ऐसे में आपको अपने रिस्क लेने की छमता को पहचानना होगा।

अगर आपकी रिस्क लेने की छमता ज्यादा हैं तो आप small cap में निवेश कर सकते हैं। अगर आप रिस्क नहीं लेना चाहते हैं तो आप Index Funds में निवेश कर सकते हैं। और अगर आप थोड़ा सा रिस्क ले सकते हैं तो Mid cap और large cap में निवेश कर सकते हैं।

यहाँ पर आप Small Cap, Mid Cap, Large Cap, Index Funds में आप Mutual Fund और शेयर मार्केट दोनों को समझे।

अब मुद्दे पर आते हैं की अगर आपकी सैलरी 25 हजार हैं तो कैसे निवेश करें।

Emergency Fund बनाए

सबसे पहले तो आप अपने लिए Emergency Fund जमा कीजिए। Emergency Fund का मतलब हैं की किसी विपरीत परिस्थिति में काम आने वाले पैसे। आम तौर पर ये आपके महीने के खर्चे के 6 गुना होता हैं। पर आप इसे अपनी मर्जी से 8 महीने या 12 महीने का बना सकते हैं।

उदाहरण के लिए अगर आपका महीने का खर्च 10 हजार रुपये हैं तो आप एक बैंक अकाउंट में 60 हजार रुपये किनारे कर के रख दीजिए। सबसे पहले आपको ये ही काम करना हैं। आप इस पैसे को FD भी कर सकते हैं, पर ऐसे किसी जगह ना रखे जहा से जरूरत पड़ने पर तुरंत इस्तेमाल ना हो सके।

बजट बनाए

बजट बनाना निवेश करने का सबसे पहले सीढ़ी हैं। अगर आपको बजट के बारे में जानकारी नहीं हैं तो आप 50 30 20 rule का मदद ले सकते हैं। 50:30:20 Rule में आप अपने सैलरी का 50% हिस्सा जरूरतों पर खर्च करते हैं, 30% हिस्सा अपनी चाहतों पर खर्च करते हैं और 20% हिस्सा निवेश करते हैं। बजट बनाने से आपके खर्चे कम होंगे, और आप अपने लिए एक बेहतर राशि निवेश कर पाएंगे।

अब जैसे की आपकी सैलरी 25 हजार हैं तो उसका 20% 5 हजार रुपए होते हैं। आपको हर महीने कम से कम 5 हजार रुपए निवेश करने हैं।

ऐसा भी हो सकता हैं की आपके ऊपर जिम्मेदारी हो या फिर कोई कर्ज हो जिसके कारण से आप इतना ना कर पाए। देखिए ऐसा कही लिखा हुआ नहीं हैं की 20% निवेश ही करना हैं। आप अपने हिसाब से इसे कम ज्यादा कर सकते हैं। पर एक उदाहरण के लिए आप 5 हजार से समझ लीजिए।

Mutual Funds से शुरू करें

देखिए अगर आप एक beginner हैं तो आपको सबसे पहले Mutual Fund से शुरू करना हैं। आप थोड़ा सा Mutual Fund के बारे में पढिए, चीजों को समझिए, कौन सा Mutual Fund अच्छा हैं, किसमे ज्यादा रिटर्न हैं, किसमे रिस्क ज्यादा हैं, इन सब के बारे में थोड़ा थोड़ा पढिए।

Mutual  Fund आम तौर पर 2 तरह के होते हैं – Equity और Debt, इन दोनों को मिलकर एक Hybrid भी होता हैं। Equity Mutual Fund शेयर मार्केट में निवेश करते हैं और Debt Mutual Fund  bonds और सरकरी deposits में निवेश करते हैं।

अब आपको अपने 5 हजार में से एक हिस्सा Equity Mutual Fund में निवेश करना हैं। ये हिस्सा आप एक उदाहरण के मदद से समझिए। मान लीजिए आपकी उम्र 30 साल हैं तो आपको अपने उम्र के उतना हिस्सा के पैसों को कम रिस्क वाले निवेश में रखना हैं। अब जैसे यहाँ पर आपकी उम्र 30 साल हैं तो आपको 5 हजार का 30% जो की 1500 रुपये हुआ उसे Debt Mutual Fund, SGBs, जैसे कम रिस्की निवेश में लगाना हैं।

बाकी का जो पैसा बच गया मतलब 5 हजार का 70% जो की 3500 रुपये हैं। इस पैसे को आप Equity Mutual Fund में निवेश कर दीजिए। यहाँ पर भी आपको अपने Risk लेने की छमता के हिसाब से निवेश करना हैं। आप नीचे एक summary देख लीजिए:

  • 25 हजार में से आपको 20% निवेश करना हैं। मतलब 5 हजार रुपये
  • इसके बाद आपको 5 हजार के दो हिस्से करने हैं। एक हिस्सा आपके उम्र के उतना होगा और उस पैसे को कम रिस्क वाले निवेश में रखना हैं। बाकी के पैसे पर आप अपने हिसाब से रिस्क ले सकते हैं।
  • अगर आपकी उम्र 30 साल हैं तो आपको 1500 रुपये सुरक्षित रखना हैं और 3500 पर अपने हिसाब से रिस्क लेना हैं।

शेयर मार्केट के ओर बढ़े

जब आपको मार्केट की समझ होने लगे। जब आपको ये समझ में आ जाए की मार्केट कैसे काम करता हैं और  Macro Economics, Technical Analysis, Fundamental Analysis, सरकारी नियम कानून, शेयर मार्केट की रिस्क और रिटर्न, इत्यादि की जानकारी हो जाए तब ही आप शेयर मार्केट में खुद से शेयर में निवेश करना शुरू करें।

आप Fundamental Analysis के लिए Screener, moneycontrol, finology जैसी websites का इस्तेमाल कर सकते हैं। वही दूसरी तरफ आप Technical Analysis के लिए चार्ट pattern और candlesticks को समझ कर निवेश कर सकते हैं।

कुछ टिप्स जो आपकी निवेश में मदद कर सकते हैं

सभी निवेश में पहले Inflation को जरूर ध्यान में रखे

अक्सर आपने ये देखा होगा की 10 हजार का SIP करो और 20 साल बाद 1 करोड़ रुपये पाए। आप SIP Calculator की मदद से खुद भी ये देख सकते हैं। SIP निवेश का एक अच्छा जरिया हैं पर किसी भी चीज में बहुत ज्यादा उम्मीद रखना गलत हैं। ये बात सच हैं की अगर आप Mutual Fund में सही से निवेश करते हैं तो आपको अच्छे रिटर्न मिलते हैं। और आपको बस ये कोशिश करना हैं की आप Inflation को हरा पाए।

कर्जों को चुका दें

आपको उन कर्जों को चुका देना हैं जिसमे ब्याज दर ज्यादा हैं। उदाहरण के लिए अगर आपके पास कोई लोन हैं जिसपर 12% का ब्याज हैं तो कोशिश करिए की उसे जल्दी से जल्दी चुका दे।

ऐसा इसलिए क्यूंकी आपके पैसे का बहुत बड़ा हिस्सा कर्ज का भुगतान करने में चल जाएगा। वैसे अगर देखा जाए तो 25 हजार की सैलरी में कोई भी कर्ज नहीं लेना चाहिए।

छोटे छोटे राशि से निवेश करिए और लंबे समय का लक्ष्य लेकर चलिए

जिस तरह learning एक जीवन भर का process हैं, ठीक उसी तरह निवेश भी एक process हैं। आप ऐसा नहीं कर सकते हैं की 25 दिन में पैसे double हो जाएंगे। आपको Return कमाने के लिए समय देना ही होगा। आप हमेशा ही मार्केट और निवेश के बारे में पढ़ते रहिए ताकि आपको चीजों के बारे में पता हो। आप इसके लिए Books, Websites, Youtube Channel, News का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसके अलावा अगर आपको शुरू में कुछ समझ ना आए तो आप कम पैसे से शुरू करिए। हो सके तो 500 का SIP कर दीजिए और जब आपको कुछ समझ में आने लगे तब अपने राशि को बढ़ाए। ऐसा देखा गया हैं की अगर आप लंबे समय तक निवेश करते हैं तो आपके नुकसान होने के chances बिल्कुल ही खतम हो जाता हैं।

अलग अलग जगह निवेश करिए

आपको अपने निवेश को जितना हो सके Diversify करना हैं। मतलब ये की आप अलग अलग जगह निवेश करिए, जैसे की Mutual Funds, Banks, शेयर मार्केट, सरकारी Bonds, Real Estate, Crypto (अगर आपको समझ आता हैं तो)। कहने का मतलब ये हैं की जब आप अलग अलग जगह निवेश करते हैं तो आपकी रिस्क बहुत कम हो जाती हैं।

अंत में

25 से 30 हजार के सैलरी में भी निवेश बिल्कुल ही संभव हैं। आप निवेश को खाने पीने की चीजे जितनी ही महत्व दीजिए। देखिए दुनिया कही न कही पैसे से ही चलती हैं। इसलिए आपको अपने लिए पैसे निवेश करना बहुत महत्वपूर्ण हो जाता हैं। ऐसा नहीं हैं की आप अपने जरूरतों को नजरंदाज करें और घुट घुट कर जिए। बस आप निवेश को नियमित रूप से करिए।

इन सभी चीजों में जो सबसे ज्यादा जरूरी चीज ये है की अगर आपकी की उम्र 25-30 से के बीच में हैं तो आप सैलरी को बढ़ाने की कोशिश करिए। शेयर मार्केट में निवेश करना बहुत ही रिस्की हैं इसलिए आपको सारी जानकारी होनी ही चाहिए। उम्मीद करते हैं आपको कुछ मदद मिली होगी। आप नीचे कमेन्ट करके कुछ भी पुछ सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Index