भारत की Stock Market Timings और छुट्टियाँ (हिन्दी में)

stock market timings

शेयर मार्केट में पैसा कमाने के लिए बहुत जरूरी हैं की आप शेयर को ऐसे समय पर खरीदे जब उसकी कीमत कम हो। शेयर की कीमत हर समय ऊपर नीचे होते रहती हैं। और अगर आप सही समय पर कोई शेयर खरीद लेते हैं तो आपको बहुत फायदा होगा।

इन सब बातों से एक चीज तो तय हैं की शेयर मार्केट में Timing बहुत जरूरी हैं। और शेयर खरीदने से पहले हमे ये जानना होगा की शेयर मार्केट कब खुलता हैं। जो लोग Traders हैं और Intraday, Futures & Options में अपनी रुचि रखते हैं उनके लिए तो Timings बहुत ज्यादा ही महत्वपूर्ण हैं।

भारत के स्टॉक मार्केट में दो महत्वपूर्ण Stock Exchanges हैं और दोनों के ही timings एक हैं। इस लेख में BSE और NSE Timings के बारे में बताया गया हैं।

Stock Market Timings

स्टॉक मार्केट में निवेशक और Traders सोमवार से शुक्रवार 9:15 से 3:30 के बीच में अपने पसंद के शेयर खरीद और बेच सकते हैं। हालांकि शेयर मार्केट सुबह के 9 बजे से शाम के 4 बजे तक खुला रहता हैं। भारत के दोनों Exchanges – National Stock Exchange (NSE) और Bombay Stock Exchange (BSE) सुबह के 9:15 से शाम के 3:30 बजे तक Normal Sessions के लिए खुली रहती हैं।

आपके मन में ये सवाल जरूर आ रहा होगा की अगर 9:15 से 3:30 के बीच में मार्केट खुला रहता हैं तो अक्सर लोग ऐसा क्यू बोलते हैं की मार्केट 9 से 4 खुलता हैं। देखिए स्टॉक मार्केट की timings 4 भाग में बाटा गया हैं:

Pre-open session

शेयर मार्केट का Pre-Opening Timing 9 बजे से 9:15 बजे तक रहता हैं। इस समय को भी तीन भाग में बाटा गया हैं।

  • 9:00 से 9:08 तक – शेयर बाजार Opening Time में 9 से 9:08 का समय निवेशक, Traders और शेयर बाजार के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण हैं। इस समय में आप अपने शेयर के Orders दे सकते हैं, उस Order को Modify कर सकते हैं या उस Order को Cancel भी कर सकते हैं। ध्यान रखिए की 9 बजे से 9:07 तक ही आप अपने ऑर्डर दे सकते हैं, उसे बदल सकते हैं या फिर उसे रद्द कर सकते हैं। बाकी के 1 मिनट में उस ऑर्डर को फ्रीज़ कर दिया जाता हैं। मतलब की आप उसके साथ अब कुछ बदलाव नहीं कर सकते हैं। देखिए इस समय में जो Orders लिए जाते हैं उसकी मदद से Market की Opening Price निकालने के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं।
  • 9:08 से 9:12 तक – शुरू के 8 मिनट में जो Orders लिए गए हैं उसे इस समय में मिलाया जाता हैं। इसका मतलब ये हैं की आपने जो Orders दिए हैं उसके हिसाब से शेयर बेचने वाले के लिए शेयर खरीदने वाला खोजा जाता हैं और शेयर खरीदने वाले के लिए शेयर बेचने वाला खोजा जाता हैं। जाहीर सी बात हैं की मार्केट का Demand और supply के हिसाब से ये चीजे होती हैं। जैसे ही मार्केट 9:15 में खुलता हैं तो ये सारे Orders Execute हो जाते हैं।
  • 9:12 से 9:15 तक – ये 3 मिनट Pre-Open Session और Regular Trading Session के बीच में एक ब्रिज की तरह होता हैं। इस समय में कुछ भी बदलाव नहीं होता हैं, और ज्यादातर समय में ये 3 मिनट खाली ही रहता हैं। एक तरह से आप ऐसा समझ सकते हैं की 9:00 बजे से 9:12 तक जो भी चीजे होती हैं उसे इस समय में फ्रीज़ कर दिया जता हैं जिसके कारण उसमे कुछ भी बदलाव ना हो।

Regular trading session/ नॉर्मल Session

जैसा की ऊपर बताया गया की 9:15 से 3:30 बजे तक नॉर्मल Sessions चलते हैं। इस बीच में आप कभी भी आप शेयर की orders दे सकते हैं और जैसे ही कोई बेचने वाला मिलेगा तो शेयर खरीदा जाएगा। गौर करने वाली बात ये हैं की शेयर की कीमत Demand और Supply पर निर्भर करता हैं इसलिए मार्केट में Volatility रहती हैं। इसका मतलब ये हुआ की कीमत ऊपर नीचे होते रहती हैं। इसलिए लगभग सारे ब्रोकर्स Limit ऑर्डर की सुविधा देते हैं जिसका इस्तेमाल करके आप अपने हिसाब से कीमत तय करके शेयर खरीद सकते हैं।

देखिए एक शेयर मार्केट का Open Price जो होता है वो भी इस समय पता चलता हैं। आप जो भी orders 9:08 बजे तक देते वो मार्केट खुलते (9:15 बजे) ही Execute होता हैं और फिर उसी से किसी शेयर का Opening Price पता चलता हैं। 3:30 बजते ही शेयर की खरीद और बिक्री बंद हो जाती हैं।

Closing Session

शेयर मार्केट Closing Time 3:30 बजे होती हैं। और ये Closing Session 4 बजे तक चलता हैं। इसे दो भाग में बाटा गया हैं।

  • 3:30 से 3:40 तक – इस समय में शेयर मार्केट की Closing Price को निकाल जाता हैं। जो भी Transactions 3:00 बजे से 3:30 बजे तक होती हैं उसका Average लेकर शेयर मार्केट की closing price तय की जाती हैं। Indexes के closing price भी average लेकर निकाली जाती हैं।
  • 3:40 से 4:00 तक – इस समय का इस्तेमाल अगले दिन के लिए orders देने के लिए किया जाता हैं। इसे AMO या After Market Orders कहते हैं। अगर बहुत से लोग Trade कर रहे है तो इन Orders को Exchange confirm कर देता हैं। ऐसे में अगर आपको Profit हो रहा हैं तो ठीक हैं नहीं तो आप अगले दिन सुबह 9 से 9:08 के बीच में उस Order को cancel कर सकते हैं या फिर अपने हिसाब से Modify भी कर सकते हैं।

“अगर आपने कभी ध्यान दिया होगा की कभी कभी मार्केट बंद होने पर जो शेयर की कीमत होती हैं वो फिर जब मार्केट खुलता हैं तो उस से अलग होती हैं। ऐसे में मार्केट को Gap-Up Opening और Gap-Down opening कहते हैं। अगर पिछले दिन की कीमत से कम में मार्केट खुला हैं तो उसे Gap-Down बोलेंगे और ज्यादा में खुला हैं Gap-Up बोलेंगे। अब ऐसा होने मुख्य कारण Closing Sessions और Pre- Open Session में दी गई Orders होते हैं।”

Block Deal Session Timings

Block Deal एक निवेशक के लिए उतना मायने नहीं रखता हैं। अब ऐसा इसलिए क्यूंकी Block Deal में बहुत बड़े तदात में शेयर की खरीद और बिक्री होती हैं। Block Deal में कम से कम 5 करोड़ के शेयर या 5 लाख शेयर की Transaction होनी जरूरी हैं। ये आम तौर पर FIIs और DIIs के लिए होता हैं। उदाहरण के लिए mutual funds कंपनी, insurance कंपनी, बैंक इत्यादि।

भारत में Block Deal Sessions सुबह और दोपहर, दो समय में होते हैं। दोनों ही sessions 15 मिनट के होते हैं। सुबह में 8:45 से 9 बजे तक और दोपहर में 2:05 बजे से 2:20 तक।

शेयर मार्केट की छुट्टियाँ

हर साल पर्व और त्योहार में शेयर बाजार बंद रहता हैं। आप नीचे आने वाले छुट्टियाँ देख सकते हैं:

Sl. No.तारिकदिनपर्व/त्योहार
102-Oct-2023Mondayमहात्मा गांधी जयंती
224-Oct-2023Tuesdayदश्हेरा
314-Nov-2023Tuesdayदिवाली
427-Nov-2023Mondayगुरुनानक जयंती
525-Dec-2023Mondayक्रिसमस

इसके अलावा हर शनिवार और रविवार शेयर बाजार बंद रहता हैं।

अंत में

शेयर मार्केट Timings समझने के बाद आपको एक चीज तो समझ आ गया होगा की अगर आपको Trade करना हैं तो आपको अपने काम को थोड़ा साइड में रखना पड़ेगा। अब ऐसा इसलिए क्यूंकी trading का समय ही आपके काम के समय के बीच में हैं। बहुत से लोग इसलिए भी trading में नुकसान करते हैं क्यूंकी वो समय पर चीजों को Analysis नहीं कर पाते हैं।

वही दूसरी तरफ अगर आप Trader हैं तो ये बिल्कुल ही आपके काम की तरह हैं। हर दिन 9 बजे से 4 बजे तक काम करो उसके बाद शनिवार और रविवार आराम करो। निवेश करने के लिए आप शेयर मार्केट बंद होने के बाद भी अपने Orders दे सकते हैं तो वो चीज की सुविधा आपके पास होती हैं।

उम्मीद करते हैं आपको ये लेख से शेयर बाजार की Timing के बारे में कुछ जानकारी मिली होगी। अगर आपको कुछ चीज ना समझ में आए तो आप नीचे कमेन्ट कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Index