Blue Chip फंड क्या है? क्या blue Chip में निवेश करना अच्छा हैं?

Blue Chip Fund kya hota hai

स्टॉक मार्केट और निवेश की दुनिया में अक्सर ऐसे कुछ शब्द है जिनका मतलब जानना बहुत जरूरी हैं। आप ऐसे भी कह सकते है की पैसा निवेश करने से पहले जरूरी चीजों का पता होना चाहिए, जैसे की कौन शेयर किस तरह से काम करता हैं? और कौन से funds आपका पैसा कहा लगा रहे हैं?

परिचय

ऐसा ही एक term हैं Blue-Chip। स्टॉक मार्केट की दुनिया में Blue-Chip का बहुत महत्व हैं। चाहे वो Blue Chip Companies, Blue Chip Funds या फिर Blue Chip Stocks हो। ये सारे ही एक निवेशक के पहले पसंद होते हैं। ब्लू चिप फंड और stocks अक्सर निवेसक को एक diversified और stable portfolio प्रदान करता हैं। इस आर्टिकल में आपको Blue Chip से संबंधित सारी जानकारी मिल जाएगी जिससे आपको निवेश करने में आसानी होगी।

Blue Chip नाम शेयर मार्केट में कैसे आया?

Blue Chip नाम poker के खेल से लिया गया हैं। जिस तरह Poker के खेल में ब्लू, रेड, और सफेद में से सबसे ज्यादा value blue chip की है, ठीक उसी तरह शेयर मार्केट में भी Blue चिप नाम जिसके आगे लगा उसकी value अधिक हैं। अब ये चाहे blue chip company हो या ब्लू chip फंड या फिर blue chip स्टॉक्स।

Blue Chip Companies क्या होता हैं?

ब्लू चिप companies वैसे companies होते हैं जिसका मार्केट capital बहुत ज्यादा होता हैं। इन companies का balance sheet अच्छा होता हैं। कम debt to equity ratio होता हैं। ये कंपनी अच्छा प्रॉफ़िट कमाती हैं।  इनका कर्ज कम होता हैं और market के ये sector leaders होते हैं। उदाहरण के लिए TATA companies, ITC, Infosys, SBI, HDFC इत्यादि। आपको अंदाज लग गया होगा की बड़ी companies जिनका भविष्य थोड़ा stable दिखाई देता हैं (अगर मार्केट down रहे फिर भी) उसको आप कह सकते है की वो blue chip कंपनी हैं।

Blue Chip Stocks क्या होता हैं?

Blue Chip companies द्वारा जारी की गई stocks को blue Chip Stocks कहते हैं। ये भारत की सबसे बड़ी companies के द्वारा ही जारी किया जाता हैं। निवेसक इसमे निवेस एक risk फ्री निवेश के तौर पर करते हैं। इन स्टॉक्स के कीमत अक्सर थोड़े ज्यादा होते हैं। इन stocks के ऊपर मार्केट के उतार चढ़ाओ का ज्यादा असर नहीं पड़ता हैं। चुकी ये एक अच्छी बुनियादी कंपनी के शेयर होते हैं इसलिए इनमे समय समय पर dividends मिलते रहते हैं।

एक लंबे समय तक निवेश करने के लिए ब्लू-चिप स्टॉक्स निवेशकों द्वारा खूब पसंद किया जाता हैं।

Blue Chip Funds क्या होता हैं?

जैसा की पहले भी बताया गया की इन ब्लू चिप स्टॉक्स की कीमत अक्सर ज्यादा होती हैं और इसलिए हर कोई इसमे निवेश नहीं कर सकता हैं। अब उस परेशानी को हल करता हैं Blue Chip Funds। एक ब्लू चिप fund निवेसको का पैसे को ब्लू-चिप companies के शेयर में निवेश करता हैं। अब ऐसा करने से आप छोटी छोटी राशि में भी बड़ी companies के शेयर अपने portfolio में खरीद सकते हैं। अब ऐसा नहीं है की अगर आपने कोई ब्लू चिप म्यूचूअल फंड में निवेश किया हैं तो वो सिर्फ एक ही ब्लू चिप कंपनी में निवेश करेगा। और यही इसकी सबसे अच्छी बात हैं। Blue Chip funds अपने फंड को अलग अलग blue chip कंपनी में निवेश करते है जिस से आपको ज्यादा ROI मिले।

Blue Chip Fund कैसे काम करता हैं?

ब्लू चिप फंड को शेयर मार्केट के professionals मैनेज करते हैं। वो आपका पैसा कुछ गिने चुने ब्लू चिप कंपनी में लगाते है जिससे आपको ज्यादा से ज्यादा रिटर्न मिल सके। जैसा की ब्लू-चिप कंपनी का अच्छा हिसाब किताब रहता है इसलिए इनमे निवेश करना एकदम रिस्क फ्री होता हैं। हर platform की blue चिप फंड आपको मिल जाएगी। जैसे की ICICI Blue Chip, SBI Blue Chip, Axis इत्यादि। चुकी आपका पैसा मार्केट में लगा हुआ रहता है इसलिए ब्लू चिप फंड मैनेजर आपका कुछ पैसा सरकारी स्कीम और बॉंडस में लगते है जो की आपके रिस्क को और कम कर देते हैं।

Blue Chip और Large Cap fund/share/company में क्या अंतर हैं?

Large Cap vs Blue Chip

सबसे आसान तरीका है समझने का की हर एक Blue Chip Fund/Share/Company एक Large Cap Fund/Share/Company हो सकता हैं लेकिन हर एक Large Cap Fund/Share/Company एक Blue Chip category में नहीं आता हैं। इन दोनों मे बहुत ही कम अंतर है जो की आप अगर थोड़ा ध्यान लगाकर समझे तो समझ आ जाएगा। एक प्रमुख अंतर ये है की ऐसा हो सकता है की large cap की मार्केट में value कम ज्यादा हो पर blue chip की मार्केट value ज्यादा ही रहती हैं।

ये भी पढ़े: Zerodha Account Open कैसे करे- जानिए पूरा प्रोसेस

Blue Chip Funds की विशेषताएँ

  • विश्वसनीय : Blue chip companies का एक अच्छा financial इतिहास होता है जो की स्थिर हैं। मार्केट के उतार चढ़ाओ (inflation, recession) में आपको ये हमेशा भरोसा रहेगा की आपका पैसा डूब नहीं रहा हैं।
  • मार्केट में पकड़: हर ब्लू चिप कंपनी की मार्केट में अच्छी पकड़ रहती हैं। वो अपने सेक्टर के प्रमुख कंपनी रहती हैं।
  • रिस्क फ्री निवेश: एक मजबूत निव वाली कंपनी में पैसा लगाना कभी भी घाटे का सौदा नहीं होता हैं। ब्लू चिप कंपनी चुकी इतनी बड़ी कंपनी हैं कभी आपका पैसा लेकर छु मंतर नहीं होंगे।
  • विदेशी पहचान: भारत के बहुत से ऐसे ब्लू चिप कंपनी जिनका बाजार देश के बाहर भी हैं। इनका बिजनस इतना बड़ा है की हर लोग इन्हे जानते है जो की कस्टमर acquisition में मदद करता है जिससे इनका बिजनस और बढ़ता हैं।
  • Dividend payments : ज्यादातर blue chip companies अपने निवेशक को dividends देते है जो की एक निवेशक के लिय अच्छी चीज हैं।
  • मार्केट Cap और reputation: जैसा की ब्लू चिप कंपनी का मार्केट cap तप बड़ा होता ही हैं उसके साथ साथ इनकी मार्केट में इज्जत भी होती हैं।
  • guaranteed रिटर्न: ब्लू चिप में आपको रिटर्न मिलेगा इसकी गारंटी रहती हैं। मतलब की आपका पैसा डूबेगा नहीं। अगर आपको नुकसान हो रहा है तो आप थोड़ा इंतज़ार करिए आपका पैसा वापस aa जाएगा।

क्या आपको Blue Chip Funds और stocks में निवेश करना चाहिए?

देखिए निवेश करना हर एक इंसान के लिए अलग अलग चीजों पर निर्भर करता हैं। किसी का पास पैसा ज्यादा होता हैं, किसी का रिस्क लेने की छमता ज्यादा होती हैं। कोई लंबे समय तक निवेश कर सकता हैं। किसी को रातों रात अमीर बन न हैं। किसी को मूलधन न दुबे ऐसा शेयर चाहिए तो किसी को मूलधन के साथ प्रॉफ़िट भी चाहिए। अब इन सारी चीजों के बिना जाने ये बताया नहीं जा सकता हैं पर नीचे कुछ कारण दिए गए जिससे आप निर्णय ले पाएंगे।

ब्लू चिप में निवेश करने और नहीं करने के मुख्य कारण:

  • अगर आप नए निवेशक है और नहीं जानते है की पैसा कहा और कैसे लगाना है तो आप ब्लू चिप फंड या शेयर खरीद सकते हैं।
  • ये शेयर और फंड safe है इसलिए इनमे ज्यादा रिटर्न नहीं हैं जितना mid-cap और small-cap में हैं।
  • अगर आप लंबे समय तक अपना पैसा भूल सकते है तो आप ब्लू चिप में निवेश कर सकते हैं।
  • Portfolio Diversification में मदद मिलता हैं ब्लू चिप में निवेश करने से।
  • अगर आप ब्लू चिप शेयर नहीं खरीद सकते है तो ब्लू चिप फंड में म्यूचूअल फंड के जरिए निवेश कर सकते हैं।
  • ब्लू चिप फंड और शेयर अपनी maximum growth कर चुकी है इसलिए इनका और growth धीरे धीरे होता हैं मतलब आप जल्दी पैसा नहीं कमा पाएंगे।
  • ब्लू चिप म्यूचूअल फंड का expense ratio कम होता है।

ब्लू चिप कंपनी के उदाहरण:

ITC Limited, Tata Consultancy Services, Reliance Industries, HDFC Bank, Hindustan Unilever Limited, Infosys, Nestle, SBI, etc

ब्लू चिप funds के उदाहरण:

Canara Robeco Bluechip Equity Fund, SBI Blue Chip Fund, ICICI – Prudential Bluechip Fund, Axis Bluechip Fund etc.

ये भी पढ़े: Index Fund क्या होता हैं? Index Fund Meaning in Hindi

ब्लू चिप फंड/शेयर/कंपनी इतने popular क्यू हैं?

मार्केट में एक चीज है की पैसा बोलत हैं। अगर आपने कुछ पैसे निवेश किए और बिना किसी रिस्क के प्रॉफ़िट भी कमा लिए तो क्या आप उसका गुण गान नहीं करेंगे। बस वही चीज है इसमे। इस फंड मे security है, पक्का पक्का रिटर्न है, टेंशन नहीं हैं और एक निवेशक के लिए क्या चाहिए। भारत मे अधिकांश मध्यम वर्ग के लोगों के पास इतना समय नहीं रहता है की वो मर्कट पर नजर रखे। इसलिए वो सबसे सुरक्षित और आसान तरीका चुनते हैं जो की blue chip फंड देता हैं।

आप बिना किसी टेंशन के 10-12% रिटर्न किसी भी ब्लू चिप फंड में कमा सकते हैं।

अंत में:

ब्लू चिप कंपनी, स्टॉक्स और फंड एक मजबूत और balanced पोर्ट्फोलीओ के लिए बहुत जरूरी हैं। इनकी इतिहास, रिटर्न, stability, भरोसा, रिस्क और आश्वासित रिटर्न निवेशकों को बहुत लुभाती हैं। हालांकि एक mid-cap और small-कप के तुलना में ये उतना रिटर्न नहीं देती हैं पर उनसे रिस्क भी कम है इनमे। एक नए निवेशक के लिए ब्लू चिप बहुत फायदेमंद साबित हो सकता हैं। हर कोई अब ब्लू चिप कंपनी के शेयर नहीं खरीद सकता हैं क्युकी वो महंगे होते है इसलिए ब्लू चिप fund है जिसमे आप म्यूचूअल funds के जरिए भी निवेश कर सकते हैं। आप इस चीज का भी ध्यान में रखिए की ब्लू चिप लंबे समय के लिए ठीक हैं। और एक जरूरी बात ये है की कही भी पैसा निवेश करने से पहले पूरी जानकारी ले ले। कही पर कुछ भी देख सुन कर निवेश न करे क्यूंकी पैसा आपका हैं।

One thought on “Blue Chip फंड क्या है? क्या blue Chip में निवेश करना अच्छा हैं?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Index