Financial Calculators जो हर दिन काम आते हैं

Financial Calculators that everyone should know

फाइनांशीयली स्मार्ट decisions लेने के लिए बहुत जरूरी है की आप अपने पैसों का जोड़ घटाओ करके निवेश करे। ये बहुत जरूरी है समझना की आप कितना पैसा निवेश कर रहे है, EMI कितना दे रहे है और अगर लोन का pre-पेमेंट कर दे तो कितना पैसा बचेगा। अब ये सब का जोड़ घटाओ करना कागज कलम से तो घंटों बर्बाद का देगा इसलिए आज हर चीज के लिए calculators है। इनको use करना भी बहुत आसान है बस थोड़ा सा समझने की जरूरत है। इन calculators को आप उनके links पर क्लिक कर के इस्तेमाल कर सकते है।

Financial Calculators जो हर किसी को इस्तेमाल करनी चाहिए

Investment/Lumpsum कैलक्यूलेटर 

Financial Calculators

ये कैलक्यूलेटर का इस्तेमाल कर के आप ये पता कर सकते है की आपका पैसा कितनों दिनों मे कितना रिटर्न देगा। Example के लिए अगर आपने 1 लाख रुपया 12% की ब्याज दर से निवेश किया तो वो पैसा 20 सालों के बाद तकरीबन 10 लाख रुपया हो जाएगा। (12 % रिटर्न शेयर मार्केट और म्यूचूअल फंड मे बहुत ही आसानी से मिल जाएगा अगर आप लंबे समय के लिए निवेश कर रहे है)। आप इस calculator का इस्तेमाल करके बहुत सारी चीजों का estimate ले सकते है।

SIP कैलक्यूलेटर 

SIP-Calculator

sip एक बहुत ही अच्छा निवेश का विकल्प है। आप हर महीने कुछ पैसों को एक जगह जमा कर सकते है । अब ये पैसा कहा निवेश करना है ये आपके ऊपर होता है। ऊपर दिए हुए उदाहरण में आप देख सकते है की कैसे मात्र 3000 रुपया की sip 20 सालों में तकरीबन 30 लाख रुपया बन गया है। ये माना गया है की आप म्यूचूअल फंड के जरिए सालाना 12% का ब्याज कमा ही लेंगे।

SWP कैलक्यूलेटर 

SWP-Calculator

SWP Calculator का मतलब है सिस्टमैटिक withdrawal प्लान। ये आपके रिटाइअर्मन्ट के लिए सबसे अच्छे plans मे से एक है। पर चूंकि ये एक मोटी रकम खोजता है ये सबके लिए सही नहीं है। पर आप गणित के हिसाब से देख सकते है की कितना रिटर्न है इसमे। Example के लिए अगर आज आपने 15 लाख रुपया का निवेश करके swp चालू किया जो सालाना 12% रिटर्न देगा और अगर आप इसे 20 सालों के लिए चालू करे जिसमे आप हर महीने 10000 रुपया का निकासी करे तो आपके पास 20 साल 50 लाख से ज्यादा पैसा होगा और आपने 20 सालों तक 24 लाख की निकासी भी कर चुके होंगे।

Inflation कैलक्यूलेटर

Inflation-Calculator

अब ये जानना भी बहुत जरूरी है की आप जो पैसा आज invest कर रहे है क्या वो 20 साल बाद या 10 साल बाद कुछ काम का रहेगा भी की नहीं । ये जानने के काम में आता है इन्फ्लैशन कैलक्यूलेटर से । आसान सा गणित हैं – आज की समान की कीमत, चाहे वो grocery हो, या पढ़ाई का खर्च, या फिर घूमने फिरने का खर्च हो, इनको आप कितने दिनों के बाद के कीमतों मे जानना चाहते है वो समय डालिए और inflation की रेट डाल दीजिए। Example के लिए जैसे आज एक बाइक की कीमत अगर 1 लाख रुपया है तो 20 साल बाद उस बाइक की कीमत 2.5 लाख से ज्यादा हो जाएगी।

इसका इस्तेमाल आपके निवेश की गए पैसों की वैल्यू जानने मे भी कर सकते है। बस थोड़ा सा उल्टा समझने की जरूरत है। अगर आपकी कोई निवेश आपको 20 साल बाद 2.5 लाख रुपया दे रही है तो उसकी आज के डेट मे वैल्यू या फिर उसकी 20 साल बाद की औकात 1 लाख रुपया के बराबर होगी। अगर आप inflation को समझते है तो ये उल्टा गणित कोई दिक्कत वाली बात नहीं है।

EMI कैलक्यूलेटर 

EMI-Calculator

अब लोन तो हर कोई कभी न कभी अपने जीवन मे लेता ही है, चाहे वो कार लोन हो या education लोन या फिर घर का लोन। किसी भी तरह का लोन लेने से पहले आपको एक बार खुद से लोन emi calculator में हिसाब करके देखना ही चाहिए की क्या आपके पास emi देने के लिए पर्याप्त राशि है की नहीं?

Home Loan Pre-Payment कैलक्यूलेटर

Loan-prepayment

लोन का पहले पेमेंट करने से बहुत फर्क पद जाता है। आपकी emi तो कम होती ही है साथ ही साथ आपकी कुल interest भी कम हो जाता है। ऊपर दिए कैलक्यूलेटर मे एक होम लोन जो 30 लाख का है उसका उदाहरण दिया गया है। इसकी अभी तक आपने 3 साल की emi भर दी है और बाकी के 7 साल मे आपको 22,62,736 रुपया चुकाना है। आपके 1 लाख का पेमेंट करने से कितना फर्क पड़ा है वो इसी से पता चल जाता है। लोन तो कोई भी सही नहीं होता है पर हमे जरूरत पड़ ही जाती है। अगर आप अपना लोन जल्दी खत्म करना चाहते है तो आपके लिए कुछ चीजे नीचे दी गई है आप एक बार पढ़ सकते है।

  • अगर आपकी capacity है तो आप साल मे एक emi का preपेमेंट कर दे, मतलब अगर आप हर महीने 100 रुपया की emi कटवा रहे है तो सालाना आप 1200 रुपया जमा कर रहे है। आप अगर कर सकते है तो 1 emi का pre payment मतलब kul 1300 रुपया लोन मे जमा कर दीजिए।
  • इसके अलावा अगर आप अपनी emi को हर साल थोड़ा थोड़ा कर के increase करे तो आपकी लोन की tenure बहुत कम हो जाएगी।
  • अगर आपके पास कही से एक lumpsum राशि आई हैं और आप सोच रहे है की लोन को payment करे या इन्वेस्ट करे तो आप prepayment calculator और sip या  investment calculator के मदद से पता लगा सकते है की आपको दोनों मे से किस में फायदा होगा। लोन की पेमेंट करने में और निवेश करने में जिसमे फायदा हो उसमे पैसे लगा दीजिए।

Rent vs Buy कैलक्यूलेटर 

rent-vs-buy-calculator

इस calculator से आपका सबसे बड़ा टेंशन खत्म हो जाएगा की घर खरीद ले या फिर किराये मे ले। इसको इस्तेमाल करना थोड़ा सा मुश्किल हो सकता है क्युकी इसमे घर की कीमतों को और आपके निवेश की गई राशि की returns को आप डाल नहीं सकते है। बस आप चुन सकते है। (अगर आपको इससे अच्छा कैलक्यूलेटर मिल जाए तो हमे जरूर लिखें, ताकि हम उसे सुधार सके)। इस कैलक्यूलेटर मे जो data भरा गया है उसके बार में थोड़ा सा समझ लेते है:

  • माना गया है की आप नवी मुंबई में रहते है।
  • आपका महीने की घर का किराया 30000 रुपया है जो की हर साल 5% की ब्याज दर से ऊपर जाएगा क्यूंकी इन्फ्लैशन भी तकरीबन उतनी ही रहती है।
  • आप जिस घर को खरीदना चाहते है उसकी कीमत 1 करोड़ रुपया है जिसकी आप अगर लोन लेकर खरीदे तो 20% पैसा मतलब 20 लाख आप down payment कर सकते हैं।
  • होम लोन की interest को 8% माना गया है और लोन की tenure को 20 साल
  • अब यह पर आपका निवेश राशि 20 लाख ही है जिसे आप down पेमेंट कर रहे है तो अगर उसको आप निवेश करते ” Moderately” या यू कहिए की कम रिस्क के साथ तो तकरीबन 9% रिटर्न मिलेगा। वही पर आपके घर की कीमत 4% (Neutral) के रेट से हर साल बढ़ेगी।  (आप किसी भी चीज को अपने हिसाब से बदल कर देख सकते है ऊपर दिए हुए calculators के लिंक से)

इन  सब चीजों को डालने के बाद इस calculator के मदद से आप देख पाएंगे की आपका 34000 रुपया बचेगा अगर आप किराये पर ही रहते है। पर देखिए ये जो भी data भरा गया है ये बनावट है। ऐसा हो सकता है की आपको घर खरीदना ही सस्ता पड़े।

अंतिम विचार

जब बात पैसों की आती है तो बहुत जरूरी है की आप हर एक निर्णय सोच समझ कर गणित के साथ ले। ये पैसा आपका मेहनत और खून पसीने की कमाई है इसलिए आपको जानना ही चाहिए की आपका पैसा आपको कहा ले जा रहा है। उम्मीद करते है की आपको कुछ सीखने को मिला होगा। और भी जानकारी के लिए पढ़ते रहिए sikkapaisa.com को जहा बजट और बचत की बातें होती रहती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Index