Hammer Candlestick Pattern in Hindi

hammer Candlestick pattern in Hindi

जब आप किसी भी शेयर का टेक्निकल एनालिसिस करते हैं तो आपको चार्ट पेटर्न्स और कैंडलेस्टिक पेटर्न्स की जरूरत होती हैं। आप बिना कैंडलेस्टिक पेटर्न और चार्ट पेटर्न के प्राइस एक्शन ट्रेडिंग नहीं कर सकते हैं। इसीलिए बहुत जरूरी है कि आप हर एक कैंडलेस्टिक पेटर्न और चार्ट पेटर्न को समझें। देखिए चार्ट पेटर्न को समझना और याद रखना दोनों अलग-अलग चीज है। आपको चार्ट पेटर्न बनने की पीछे की जानकारी मालूम होना चाहिए। जब आपको ये पूरी प्रक्रिया मालूम होगी तो आपको प्राइस एक्शन करने ट्रेडिंग करने में बहुत आसानी होगी और आप एक सही निर्णय ले पाएंगे।

देखिए Candlestick Pattern अलग-अलग का Candlestick से मिलकर के बनते हैं। Candlestick Pattern एक Candle, दो Candle और तीन Candle से मिलकर बनता है और Chart पेटर्न में बहुत से कैंडल्स मिलकर के चार्ट पर कोई पैटर्न बनाते हैं।

Technical Analysis में वैसे तो बहुत सारे कैंडलेस्टिक पेटर्न्स और चार्ट पेटर्न्स मौजूद है पर इन सब में hammer candlestick pattern बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण है। Hammer candlestick pattern एक single candle bullish reversal pattern हैं। यह दिखने में एक हथौड़े जैसा होता है इसीलिए इसका नाम Hammer Candlestick Pattern है।

Hammer Candlestick Pattern डाउन ट्रेंड के खत्म होने का और Uptrend के शुरू होने का संकेत होता है। इसीलिए Hammer Candlestick Pattern हमेशा डाउन ट्रेंड में ही बनता है। इसे आप ऐसे समझे की यह एक सपोर्ट लेवल के आसपास बनता है। देखिए गौर करने वाली बात यह है कि Hammer Candlestick Pattern और Hanging Man Pattern दोनों ही एक जैसे दिखते हैं पर दोनों का मतलब बहुत ज्यादा अलग होता है और दोनों अलग-अलग ट्रेंड्स में बनते हैं। इस आर्टिकल में Hammer Candlestick Pattern in Hindi के बारे में पूरी जानकारी दी गई है, Hammer Pattern कब बनता है। Hammer Pattern कैसे बनता है। शेयर मार्केट में Hammer Pattern को कैसे इस्तेमाल करना है? और किस तरह से आप Hammer पैटर्न का इस्तेमाल करके ज्यादा से ज्यादा प्रॉफिट कमा सकते है।

Hammer Candlestick: Bullish Reversal Pattern

Hammer Pattern दिखने में एक Hammer या हथौड़े जैसा होता है जिसमें ऊपर का हिस्सा बहुत छोटा होता है और नीचे का हिस्सा बहुत लंबा होता है। Hammer Pattern की बॉडी बहुत छोटी होती है और इसके निचली शैडो बहुत लंबी होती है। ऊपर वाली शैडो हो सकती है और नहीं भी हो सकती है, पर अगर ऊपर की शैडो है तो वो बहुत कम होनी चाहिए और अगर नहीं है तो वो और अच्छी बात हैं। Bullish Reversal Pattern का मतलब हैं की शेयर एक Bearish मार्केट से Bullish मार्केट में जाने वाली हैं।

Hammer Candlestick Pattern in Hindi

देखिए शेयर मार्केट में कोई भी पैटर्न जैसा किताब में है वैसा नहीं बनता है। थोड़ा ऊपर नीचे रहता ही है। उसके बाद भी अगर जैसा theory हैं उसके जैसा पैटर्न बन गया तो भी बहुत ज्यादा उम्मीद है कि वह पैटर्न का संकेत गलत हो सकता है। उदाहरण के लिए ही हैमर कैंडलेस्टिक पेटर्न जो एक Bullish Reversal Pattern है लेकिन हर बार यह काम नहीं करता है। ये चार्ट के नीचे मे बनता तो हैं लेकिन शेयर और नीचे चल जाता हैं। इसीलिए बहुत ज्यादा जरूरी है कि आप एक सिर्फ पैटर्न को लेकर के कोई भी ट्रेड ना लें।

Hammer Candlestick Pattern in Hindi

हैमर पैटर्न से जुड़ी कुछ जरूरी बातें:

  • छोटी बॉडी होनी चाहिए।
  • नीचे वाली शैडो (Wick) लंबी होनी चाहिए। आम तौर पर ये बॉडी से दोगुनी ज्यादा होनी चाहिए पर ये जितना ज्यादा लंबा होगा उतना अच्छा हैं।
  • ऊपर वाली शैडो ना हो और अगर हैं तो बहुत छोटी होनी चाहिए।
  • Hammer Pattern Bullish मार्केट का सूचक होता हैं। (पर जरूरी नहीं की हर बार सही संकेत दे)
  • सिर्फ Downtrend में ही hammer बनता हैं। अगर uptrend में hammer दिखा तो वो Hanging Man Pattern हैं। दोनों एक जैसे दिखते हैं इसलिए कन्फ्यूज़ नहीं होना हैं। दोनों का अलग अलग मतलब हैं।
  • Hammer के रंग से कोई मतलब नहीं हैं। ये लाल और हरा दोनों हो सकता हैं। हरा पैटर्न को Bullish Hammer बोलते हैं और लाल को Bearish Hammer बोलते हैं।
  • Hammer Pattern चार्ट के नीचे की ओर ही बनेगा।
  • किसी भी पैटर्न को Backtesting जरूर करें
  • हमेशा एक चीज पर निर्भर ना रहे है। पैटर्न के साथ साथ indicators (MACD, RSI, Volume इत्यादि) fundamental Analysis, मार्केट के खबर को जरूर ध्यान में रखें।

Hammer Candlestick Pattern कैसे बनता हैं

देखिए जब आप Candle को बनते हुए देखेंगे तो आपको इसके पीछे का कहानी समझ में आ जाएगा। ये सबसे आसान तरीका हैं। आप नीचे एक उदाहरण भी देख सकते हैं। देखिए किसी भी शेयर के एक Candlestick में 4 चीजे होती हैं। मान लीजिए नीचे किसी शेयर की Opening Price, Closing Price, Highest और Lowest Price दी गई-

  • Open – 100
  • Close – 120
  • High – 125
  • Low – 50

अब जब ये Candle चार्ट में बनेगा तो इसका Body जो होगा वो 100 – 120 होगा। ऊपर वाली Wick 125 पर जाएगी और नीचे वाली शैडो 50 पर जाएगी। अब जैसा की Hammer बनने के लिए Body के size से दोगुनी निचली शैडो होनी चाहिए। Body 20 points की हैं और नीचे वाली विक 100-50 = 50 की होगी।

देखिए अब आप इसे ऐसे समझिए कि जब मार्केट खुला तो कीमत ₹100 थी । उसके बाद जैसे-जैसे मार्केट आगे की और बढ़ा तो बेचने वालों ने शेयर को इतना बेचा की प्राइस नीचे गिरते गिरते ₹50 तक आया। Sellers ने मार्केट को अपने Low पर ला दिया जो की ₹50 है। जब मार्केट ₹50 पर आ गया उसके बाद से क्या हुआ की मार्केट में खरीदने वाले लोगों की संख्या बढ़ गई जिन्होंने ₹50 से ले जाकर के शेयर को 120 पर बंद किया क्योंकि क्लोजिंग प्राइस ₹120। दिन भर में शेयर ओपन हुआ 100 पर, शेयर का Low 50 हुआ, High गया 125 का और Close हुआ 120 पर।

इस सब के पीछे का मानसिकता यह हुआ कि पहले जो मार्केट में बहुत ज्यादा बेचने वाले लोग थे या सेलर्स थे लेकिन जैसे-जैसे समय बिता बायर्स लोग बहुत ज्यादा हावी हो गए और शेयर प्राइस को ऊपर ले जाकर के बंद कर दिया। तो आप समझ गए होंगे कि पहले सेलर्स बहुत ज्यादा थे और अब बायर्स बहुत ज्यादा आ गए हैं। अब जो भी कारण हो Buyers के हावी होने का, पर ऐसा अनुमान लगाया जाता हैं की buyers हावी रहेंगे तो मार्केट ऊपर जाएगा। और जैसा की Candle बनने के शुरू में downtrend था तो ये एक Trend का रिवर्सल हो सकता है। हां पर यह हर बार सही नहीं होता है। बहुत ज्यादा जरूरी है कि आप अगले कैंडल का इंटेजर कर ले या किसी तरह का कन्फर्मेशन ले ले इंडिकेटर के इस्तेमाल कर के। इसके अलावा और भी चीज हैं वह सब चीज भी कर ले तभी जाकर आप हैमर से प्रॉफ़िट कमा पाएंगे।

2 thoughts on “Hammer Candlestick Pattern in Hindi

  1. I loved even more than you will get done right here. The overall look is nice, and the writing is stylish, but there’s something off about the way you write that makes me think that you should be careful what you say next. I will definitely be back again and again if you protect this hike.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *