Vedanta Company का Demerger से शेयर पर क्या असर होगा

Vedanta company demerger

Vedanta Limited एक खनन कंपनी (mining) जो अलग अलग metals की mining करती हैं और फिर उसे भारत और विदेशों में बेचती हैं। हाल ही में Vedanta ने ये बताया की उनकी कंपनी अलग अलग 6 हिस्सों में बाटी जाएगी।

अनिल अग्रवाल की Vedanta Company को निम्नलिखित 6 कंपनी में बाटा जाएगा

  • Vedanta Aluminum
  • Vedanta Oil & Gas
  • Vedanta Power
  • Vedanta Steel and Ferrous Materials
  • Vedanta Base Metals
  • Vedanta Limited (holding company)

Vedanta Company का Demerger क्यू हुआ?

देखिए बात ये निकल कर आता हैं की आखिर क्या कारण हैं जिससे कंपनी को अलग किया जा रहा हैं। और आने वाले समय में इस Vedanta Demerger से निवेशकों पर क्या असर पड़ेगा। इन सब चीजों को समझने के लिए हमे Vedanta Company का Financials देखना होगा। आप नीचे कुछ जरूरी चीजे देख सकते हैं।

  • Vedanta Company का पिछले 5 सालों का Compounded Profit Growth हैं  4% और ये प्रॉफ़िट growth पिछले 3 साल में -10% हैं।
  • Vedanta Company को FY 23 में 14503 करोड़ का प्रॉफ़िट हुआ हैं।
  • Vedanta कंपनी के ऊपर लगभग 52000 करोड़ का कर्ज अभी बाकी हैं जो इन्हे मार्च 2025 तक चुकाना हैं।
  • Vedanta Company ने FY 23 में 357% का Dividend Payout (लगभग 41000 करोड़) किया हैं। और चुकी 68% शेयर holding कंपनी के Promotors के पास ही हैं तो इसमे से सारे पैसे उन्ही के पास गए हैं।

अगर आप थोड़े दिनों पहले के खबर को पढ़ेंगे तो आपको मिलेगा की Vedanta ने अपने शेयर को Buyback करने के लिए भी बोला था। मतलब की वो कंपनी को स्टॉक मार्केट से हटाना चाहते थे और एक प्राइवेट कंपनी बनाना चाहते थे। इन सब चीजों को आप ऐसे पढिए की कंपनी के ऊपर कर्ज हैं, कंपनी ने कोशिश की उसे प्राइवेट बनाया जाए, कंपनी खुद को ही dividend दे रही हैं और कंपनी में प्रॉफ़िट भी नहीं हो रहा हैं।

आपको ये चीज समझ में आ गया होगा की कंपनी परेशानियों से घिर चुकी हैं और किसी तरह इस कर्ज के जाल से निकलने का सोच रही हैं। कंपनी ने ये भी कहा हैं की वो अपनी iron ore और steel बिजनस को बेचकर लगभग $4.9 बिलियन का कर्ज चुकाएगी।

कुल मिलाकर बात ये आ रहा हैं की कंपनी अपने कुछ कुछ assets को बेच रही हैं और इसके लिए वो छोटे छोटे हिस्से कर रही हैं ताकि उन्हे मैनेज करने में आसानी हो। और इन सब का कारण हैं बहुत सारा कर्ज जो की बिजनस को एक जाल में फसा लिया हैं।

Vedanta Company Demerger में आगे क्या होगा?

देखिए कंपनी चाहे जो भी बोले आपको ये चीज समझने की जरूरत हैं की Vedanta अभी बुरी फस चुकी हैं। उन्होंने इस पूरे Demerger को Value Unlocking का नाम दे दिया हैं। अब ये Value Unlocking इतना जरूरी क्यू हैं और इस कुछ होगा भी की नहीं इसे समझते हैं।

देखिए Value Unlocking का यहाँ पर सीधा मतलब होता हैं की हर एक बिजनस अब सिर्फ अपने लिए काम करेगा और अपनी सही growth पर जाएगी। आप ऐसे समझिए की पहले Vedanta की एक ही कंपनी के अंदर 6 कंपनी थी। और Vedanta ग्रुप हर एक कंपनी को साथ लेकर चल रहा था। अब ऐसे में जिनकी Growth ज्यादा हैं वो आगे नहीं बढ़ पा रहे थे क्यूंकी उनकी प्रॉफ़िट किसी दूसरे कंपनी के loss में चले जा रहे थे और कही ना कही वो Growth वाले बिजनस को पीछे पीछे खिच रहे थे।

अगर आप इसे थोड़े अच्छे शब्दों में समझेंगे तो इसका मतलब हुआ की कंपनी का ऐसा मानना हैं की Demerger से Value Unlock होगा और हर एक बिजनस बिना किसी रोक टोक के अपने मुख्य काम पर ध्यान दे पाएगी। अब चूंकि ये अलग अलग कंपनी होंगी तो वो अपने हिसाब से अपने बिजनस को आगे बढ़ाने के लिए कर्ज या Strategic decisions ले पाएगी जो की सिर्फ उस कंपनी और शेयर holders के हित में होगा।

अब ये सारी तो अच्छी अच्छी बातें हो गई, पर जरूरी थोड़े ना हैं की ऐसा ही हो? ऐसा भी तो हो सकता हैं की कंपनी को अलग अलग मार्केट में competition मिले और वो मुहँ के बल गिर जाए। ये ठीक उसी तरह हैं की आपको अपने पैरों पर खड़ा होना हैं और पीछे से कोई साथ देने वाला नहीं हैं। Management के खर्चे बढ़ेंगे, शुरू में operating Costs भी ज्यादा होंगे, और सबसे बढ़ी बात ये हैं की शुरू के कुछ समय में कुछ भी Organized नहीं होगा।

जाहीर सी बात हैं की आने वाले भविष्य में ये 6 नई कंपनी अगर अच्छे से काम किए तो निवेशकों को बहुत फायदा होगा। और ये भी बात हैं की कुछ कंपनी अच्छी प्रॉफ़िट नहीं कमा पायेंगी।

इसके अलावा निवेशकों का रुचि Vedanta कंपनी में बढ़ सकता हैं। अगर आप पिछले कुछ दिनों के शेयर के बर्ताव को देखेंगे तो अच्छा खासा रिटर्न मिल रहा हैं (तकरीबन 12% बस कुछ ही दिनों में)। पर ये बात समझने वाली हैं की शेयर की कीमत पूरी तरह से Demand और Supply पर होती हैं, ना की उसकी Fundamentals और Financials पर। कंपनी के बारे में कुछ खबर आई हैं जिससे ये उम्मीद किया जा रहा हैं की आगे कंपनी एक कर्ज मुक्त कंपनी बनेगा और इसी खबर से कंपनी के शेयर की कीमत ऊपर जा रही हैं।

कुल मिलाकर बात ये हैं की अभी शेयर की कीमत किधर जाएगी ये कहना थोड़ा मुश्किल हैं। चूंकि अभी कंपनी में नई नई चीजे हो रही हैं तो कीमतों में उतार चढ़ाओ लगा रहेगा। अगर आप एक Trader तो हैं इस समय का लाभ उठा लीजिए और अगर आप एक निवेशक हैं तो थोड़ा इंतज़ार करिए क्यूंकी हर दिन Vedanta कंपनी से संबंधित कुछ ना कुछ हो रहा हैं तो बेहतर हैं की कंपनी को एक स्थिर जगह पर आने दीजिए उसके बाद निवेश करिए।

(ये निवेश करने या ना करने की कोई राय नहीं हैं, आप अपने रिसर्च के हिसाब से अपना पैसा लगाए)।

Vedanta Company के shareholders को क्या मिलेगा?

Vedanta कंपनी के हर एक shareholder को एक शेयर पर और 5 शेयर मिलेंगे। मतलब की अगर आपके पास 1 शेयर हैं तो आपके कुल शेयर 6 हो जाएंगे। ये सारे शेयर Vedanta के Demerger के बाद जो कंपनी बनेगी उसकी होगी। ऐसा बोला जा रहा है की कंपनी का Restructuring FY 25 तक पूरा हो जाएगा।

Vedanta कंपनी जब भी demerge होने के बाद स्टॉक मार्केट में लिस्ट होगी, उसके बाद ये सारे shares आपको मिल जाएंगे। आने वाले समय में आप ऐसा कर सकते हैं की जब भी आपको शेयर मिले आप loss करने वाली कंपनी को बेचकर उसे प्रॉफ़िट करने वाली कंपनी में लगा दे। क्यूंकी जाहीर सी बात हैं की हर एक कंपनी मार्केट में नहीं टिक पाएगी।

अंत में

Vedanta Company का demerger कंपनी की आखिरी प्रयास हैं की वो कर्ज के जाल से बाहर निकले। हालांकि Vedanta demerger के फायदे भी हैं। अगर कंपनी अपने कुछ हिससे बेचकर कर्ज मुक्त हो जाती हैं तो ये निवेशकों के लिए अच्छी बात होगी। अगर आपके पास Vedanta Company के शेयर हैं तो आप अभी अपना profit बुक कर सकते हैं क्यूंकी market बहुत ही Volatile हैं और कभी भी कुछ भी हो सकता है। (इसे निवेश की राय ना समझे, आप अपना रणनीति जरूर बनाए)

कोई भी नई कंपनी जब बनती हैं तो कंपनी में नए नए बदलाव होंगे, नए परेशानी आएगी, मार्केट में competition मिलेगा, operating costs बढ़ेंगे इत्यादि। इन सब से शेयर की कीमत के बारे में कुछ सही से नहीं कहा जा सकता हैं। वैसे तो शेयर की कीमत कहा जाएगी वो कोई नहीं बता सकता हैं पर एक Fundamentally strong कंपनी में निवेश करने से आपके पैसे डूबने का risk कम रहता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Index