Zerodha में CNC क्या होता हैं? CNC Meaning in Hindi

Zerodha CNC Meaning in Hindi

Zerodha Kite भारत का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला Trading app हैं। Zerodha में बहुत सारे ऐसे फीचर्स हैं जिसे समझना एक निवेशक के लिए बहुत जरूरी होता हैं। ऐसा ही एक फीचर हैं CNC in Zerodha। अब अगर आपको शेयर खरीदना और बेचना हैं तो आपको CNC order का इस्तेमाल करना आना चाहिए। इस लेख में CNC क्या होता हैं? Zerodha में CNC orders कैसे करें? इत्यादि के बारे में जानकारी दी गई हैं।

Zerodha में CNC क्या होता हैं? CNC Meaning in Hindi

Zerodha में CNC का मतलब Cash and Carry होता हैं। ये शेयर खरीदने के Order देने का प्रकार हैं जो की आम तौर पर एक दिन से ज्यादा के निवेश के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं। निवेशक इसे शेयर की डेलीवेरी लेने के लिए इस्तेमाल करते हैं। डेलीवेरी का यहाँ मतलब हैं की आप उस शेयर को अपने Demat अकाउंट में रखने के लिए खरीद रहे हैं। हालांकि आप उसे अपनी मर्जी से कभी भी बेच सकते हैं।

उदाहरण के लिए: अगर आप रिलायंस की 10 शेयर का CNC Order देते हैं इसका मतलब हुआ की आप रिलायंस की 10 शेयर को अपने Demat अकाउंट में रखना चाहते हैं। ऐसा निवेशक इसलिए करते हैं क्यूंकी लंबे समय में ज्यादातर शेयर प्रॉफ़िट में चली जाती हैं। आप जिस भी शेयर का CNC ऑर्डर देंगे वो शेयर आपके Demat अकाउंट में Trading + 2 दिन में आ जाता हैं।

यहाँ पर ये चीज गौर करने वाली हैं की अगर आप किसी शेयर का CNC Order देकर उस शेयर को उसी दिन बेच देते हैं तो वो खरीदारी Intraday में गिनी जाएगी और उस पर आपका ब्रोकर (Zerodha) intraday की brokerage फीस लेगा। जाहीर सी बात हैं की शेयर बेचने के लिए आपके पास पहले वो शेयर होने चाहिए।

Zerodha CNC Order की विशेषताएँ

1. Delivery वाले orders: CNC का फूल फॉर्म Cash & Carry होता हैं, जिसका मतलब की आप उसे अपने पैसे (Cash) से खरीद कर अपने पास (Carry) रखते हैं। निवेशक इसका इस्तेमाल निवेश के लिए करते हैं न की Trading करने के लिए।

2. Trading+2 दिन: जब आप किसी स्टॉक का डेलीवेरी लेने के लिए CNC ऑर्डर देते हैं तो आपको वो शेयर Trading वाले दिन से 2 दिन के अंदर मिल जाता हैं। ये शेयर आपके Demat Account में चला जाता हैं जहा वो बस पड़ा रहता हैं। जब भी आपको फिर उसे बेचने की जरूरत पड़ेगी आप उसे बेच सकते हैं।

3. कोई समय सीमा नहीं हैं: जैसा की Intraday में होता हैं की आपको वो शेयर उसी दिन बेचने होते हैं। लगभग सारे ब्रोकर Auto-Square Off की सुविधा देता हैं। ऐसे में अगर आप किसी शेयर का Delivery लेते हैं तो आप उस शेयर को दिन, महीने, साल, दशक जब तक मन करे तब तक अपने पास रख सकते हैं।

4. Margin की जरूरत नहीं पड़ती हैं। Intraday में आप Margin का इस्तेमाल करके भी Trading कर सकते हैं लेकिन CNC Orders में आपको पूरा पैसा देना होता हैं। वैसे तो ये एक तरह से फायदा भी हैं और नुकसान भी।

5. अगर आप Zerodha मे CNC ऑर्डर देते हैं तो आपको कोई Brokerage देने के जरूरत नहीं हैं। ऐसा इसलिए क्यूंकी Zerodha Delivery Orders पर कुछ भी फीस नहीं लेता हैं।

Zerodha में CNC Order कैसे करें?

  • आप अपने Zerodha Kite app में लॉगिन कर लीजिए।
  • उसके बाद आपको जो भी शेयर खरीदने हैं उसको चुन लीजिए।
  • जैसे ही आप Buy पर क्लिक करेंगे, Zerodha आपको दूसरे पेज में ले जाएगा।
  • आप उस पेज में आपको कितने शेयर खरीदने हैं वो डालकर CNC को चुन लीजिए।
  • इसके अलावा आप मार्केट ऑर्डर या लिमिट ऑर्डर भी चुन सकते हैं। आप Stoploss इत्यादि को भी अपने सुविधा के हिसाब से चुन सकते हैं।
  • अगले स्टेप मे आप स्वाइप करके शेयर खरीदने के लिए CNC ऑर्डर दे दीजिए।

जैसे ही आपका ऑर्डर Execute होगा वैसे ही आप उतने शेयर के मालिक बन जाएंगे। वो शेयर आपको T+2 दिन में आपके Demat अकाउंट में या जाएंगे।

ठीक इसका उलटा जब आपको कोई शेयर बेचना हैं तो आप उस शेयर को Sell ऑप्शन चुनेंगे। बाकी की प्रक्रिया वैसे ही हैं।

अंत में

Zerodha का CNC विकल्प हर एक निवेशक के लिए बहुत ही basic जरूरत हैं। अगर आप एक निवेशक हैं और शेयर मार्केट में लंबे समय तक निवेश करना चाहते हैं तो आपके लिए CNC को समझना जरूरी हैं। जैसा की शेयर मार्केट में उतार चढ़ाओ होते रहता हैं, तो अगर आपको नुकसान होता हैं तो आप उस शेयर को कुछ दिनों तक रख सकते हैं।

आशा करते हैं की आपको कुछ जानकारी मिली होगी। अगर आपको निवेश और बचत के बारे में कुछ भी समझ ना आए तो आप नीचे कमेन्ट करके पुछ सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Index